इस टेक्नीक से सिंचाई करने से किसानों को मिलेगी 90 % सब्सिडी ,जानिए कैसे करें आवेदन

 
PIC

UP के कई राज्यों में इस बार मॉनसून कमजोर रहा है इसके चलते कई इलाके सूखे की स्थिति का भी सामना कर रहे है किसानों के सामने इस बार सिंचाई एक गंभीर समस्या बनकर खड़ी होने वाली है ऐसी स्थिति में किसानों को सिंचाई की नई टेक्नीके अपनाने की सलाह दी जा रही है जिसमें पानी की खपत अन्य के मुकाबले बहुत कम होती है 

PIC
फ़िलहाल बिहार सरकार  प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत ड्रिप और  स्प्रिंकलर सिंचाई अपनाने पर 90 % का अनुदान दे रही है इसके लिए बिहार सरकार के उद्यान विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते है 
 प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना योजना के अंतर्गत ड्रिप सिंचाई  पद्धति तथा स्प्रिंकलर सिंचाई  पद्धति में 90 % के अनुदान की व्यवस्था सभी श्रेणी के किसानों के लिए की गई है 
ड्रिप सिंचाई जिसे टपक सिंचाई भी कहते है इस विधि से बूंद बूंद के रूप में फसलों के जड़ क्षेत्र तक एक छोटी व्यास की प्लास्टिक पाइप  से पानी प्रदान किया जाता है ड्रिप सिंचाई विधि से फसलों की उत्पादकता में 20 से 30 % तक अधिक लाभ मिलता है साथ ही 60 से 70 % तक पानी की बचत होती है 

PIC
स्प्रिंकल विधि से सिंचाई नल द्वारा खेतों में पानी भेजा जाता है वहां राइजर पाइप द्वारा खेतों में छिड़काव विधि से सिंचाई किया जाता है पानी की बचत और उत्पादकता के अनुसार स्प्रिकल विधि ज्यादा उपयोगी मानी जाती है