जानिए फलों को पकाने की नई तकनीक ,किसानों को होगा फायदा

 
pic

पेड़ से तोड़ने के बाद फल कुछ समय तक ही ताजा रह पाते है इसके बाद वे धीरे धीरे खराब होना शुरू हो जाते है यदि इसे सुरक्षित नहीं रखा जाए तो किसानों और फल विक्रेताओं का काफी नुकसान उठाना पड़ता है कई बार दूर मंडी या मार्केट में फलों को ले जाते समय रास्ते में या मंडी पहुंचने तक फल खराब होने लग जाते है जिस कारण से मजबूरन कम कीमत पर फलों के बेचना पड़ता है लेकिन आज कई ऐसी टेक्नीक आ गई है जिसमे फलों को काफी लंबे समय तक सुरक्षित रखा जा सकता है जिससे फल जल्दी से सड़ता या गलता नहीं है 

pic
वैसे तो आज फलों को पकाने के लिए कई तरिके आ गए है लेकिन फलों को पकाने का सबसे आसानी और पारंपरिक तरीका राईपिंग तकनीक या विधि है जिससे फल को बिना किसी नुकसान पहुंचाएं उसे लंबे समय तक सुरक्षित रखा जा सकता है 
राईपिंग टेक्नीक फलों को पकाने के लिए सबसे सुरक्षित और आसान टेक्नीक है इसका इस्तेमाल करके आप फलों को लंबे समय तक ताजा  रख सकते इस तकनीक या विधि का विधि का  प्रयोग करने से फलों की क्वालिटी में अंतर नहीं आता है यह एक आधुनिक टेक्नीक है जिसका प्रयोग फलों को समय से पहले पकाने में किया जाता है बड़े -बड़े फल विक्रेता इस तकनीकी का उपयोग करके फलों को लंबे समय तक ताजा रखते है 
यह फल पकाने की सबसे फेमस और आसान टेक्नीक है इस टेक्नीक में फल पकाने के लिए छोटे -छोटे चैंबर वाला कोल्ड स्टोरेज बनाया जाता है इस चैंबर में एथिलीन गैस को छोड़ दिया जाता है इससे फल जल्दी पकने लगते है इस टेक्नीक से फलों को पकाने पर फलों को किसी तरफ का खतरा नहीं होता है इस टेक्नीक का उपयोग आम पपीता और केला को पकाने में किया जाता है 

pic
राइपनिंग टेक्नीक से केले को पकाने के लिए सबसे पहले कच्चे केलो को डिब्बानुमा छोटे चैंबर वाले कोल्ड स्टोरेज में रखा जाता है इसके बाद इन कच्चे फलों एथिलीन गैस को छोड़ा जाता है इस गैस के प्रभाव से फल धीरे -धीरे पहने लगते है इसी के साथ फलों के रंग में भी परिवर्तन होने लगता है इस प्रकार चार -चांद दिन में फल पूरी तर्ज पककर तैयार हो जाता है इसी तरह अन्य फलों को भी पकाने के लिए राइपनिंग टेक्नीक का इस्तेमाल किया जाता है 
फलों को पकाने के अन्य पारंपरिक तरिके 
पैरावट में फलों को दबाकर रखने से फल जल्द पक जाता है और सुरक्षित भी रहता है ये कम खर्चीला तरीका है पर इस तकनीक से फल को पकने में समय अधिक लगता है 
फल को पकाने के लिए इसे बोरे पैरा और भूसे और अनाज के बीच में दबाकर रखने से भी फल समय से पहले पकाया जा सकता है 
फल को कागज में लपेटकर रखने से भी फल अच्छे से पक जाता है