अब खाद की कीमतें छू रही आसमान, किसानों की बढ़ी मुश्किलें

 
jjg

जहां केंद्र सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए समय समय पर कई योजनाएं लाँच करती हैं जिससे किसानों को किसी तरह की समस्या न हो वहीं देश में बढ़ रही महंगाई का असर अब किसानों की जेब पर पड़ने लगा हैं 

बता दे की देश में उर्वरक का संकट अब किसानों को डराने लगा हैं जैसा की आप सब अच्छे से जानते हैं रूस और यूक्रेन के बीच में चल रहे युद्ध के कारण क्यों चीजों के कीमतों में तेजी से वृद्धि हो रही हैं तो इसका सबसे अधिक असर फॉस्फेटिक और पोटेशियम उर्वरकों की आपूर्ति पर देखने को मिल रहा हैं 

kj

एक खबर के मुअतबिक इस बार देश में लगभग 25-30 लाख टन डाई-अमोनियम फॉस्फेट , 5 लख टन म्यूरेट ऑफ पोटाश और 10 लाख टन नाइट्रोजन, फास्फोरस, पोटाश और सल्फर के जटिल उर्वरको का अनुमान लगया जा रहा हैं लेकिन देश में केवल कग्रिफ की फसल की डीएपी 50 लाख टन होती हैं 

hjl

खाद की कीमत 
जानकरी के मुताबिक आपको बता दे बाजार में उर्वरक की कीमत लगभग 1200 डॉलर टन हैं जबकि वहीं डाई-अमोनियम फॉस्फेट (डीएपी) के लिए आवश्यक फॉस्फोरिक एसिड की कीमत 2025 डॉलर प्रति टन हैं वर्तमन में लगभग देश में 30 लाख टन डीएपी का स्टॉक मौजूद हैं साल 2022 में खाद कंपनियों ने डीएपी की कीमत में1350 रूपये प्रति बेग कर दिया था