फसल को कीटों से बचाने के लिए खेत में लगाए सोलर LED लाइट ट्रैप, सरकार दे रही 75 % तक की सब्सिडी

 
xcxzc

आजकल किसान कीटनाशकों का इस्तेमाल ज्यादा करने लग गए है। इससे फसल को काफी नुकसान पहुंचता है। साथ ही मिट्टी की सेहत भी इससे बुरी तरह से प्रभावित होती है। यही कारण है कि अब किसान उनको दूसरे विकल्प अपनाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इन विकल्पों में लाइटट्रेप को भी शामिल है जो फसल को बिना नुकसान पहुंचाए कीटो को नष्ट कर देता है। यह स्कोर कीटनाशकों का एक अच्छा विकल्प माना जाता है जिसे किसानों तक पहुंचाने के लिए सरकार कई तरह की परियोजनाएं चला रही है। इसी कड़ी में हरियाणा सरकार भी किसानों को लाइटस्ट्रिप लगवाने के लिए प्रेरित कर रही है। कृषि विभाग की ओर से किसानों को सोलर एलइडी लाइट स्ट्रिप की खरीद पर 75% तक की छूट दी जा रही है। 


क्या है सोलर एलइडी लाइट ट्रेप
आपको बता दें कि सोलर एलइडी लाइट स्ट्रिप एक सौर ऊर्जा से चलने वाला उपकरण है। इस उपकरण में सबसे ऊपर सोलर प्लेट लगी हुई है जिसके नीचे लगी बैटरी को दिन के समय चार्ज किया जाता है। इस उपकरण में एक इलेक्ट्रिक रैकिट लगा होता है जिसके ऊपर कई छोटे-छोटे बल्ब लगाए जाते हैं।  यह ब्लब को सौर ऊर्जा से बैटरी से चलते हैं। इस की रोशनी में रात के समय कीट इलेक्ट्रिक रैकिट की चपेट में आकर नष्ट हो जाते हैं। इस तरह फसल को नुकसान नहीं होता और बिना किसी सरकार के कीटों पर नियंत्रण किया जा सकता है। 

सरकार दे रही है सब्सिडी
 हरियाणा के किसानों को खेत में कीट पतंगों के नियंत्रण के लिए सोलर एलइडी लाइट ट्रेप लगाने के लिए सरकार 75 % तक सब्सिडी दे रही है। हर 1 एकड़ में एक सोलर पावर एलइडी लाइट ट्रेप लगाया जाता है और कोई भी किसान अधिकतम 10 एकड़ में लाइट ट्रेप लगा सकता है। also read ; 
Agriculture Growth : हर साल बढ़ रही है बिहार में बढ़ रही खाद्यान्न उपज से खिले किसानों के चेहरे, जानिए इस साल कितना हुआ उत्पादन

सब्जी और नकदी फसलों को हो रहा है नुकसान
मौसम बदलने पर कीट पतंगों से सब्जी और दूसरी फसलों को काफी नुकसान होता है। इसकी रोकथाम के लिए कीटनाशक का भारी मात्रा में इस्तेमाल किया जाता है जो कीटो को जड़ से खत्म कर देते हैं लेकिन केमिकल के जहरीले अंश फसल की उत्पादकता को खराब करते हैं बल्कि सेहत के लिए भी नुकसानदायक साबित होते हैं। यही कारण है कि हरियाणा की नई कीटों का प्रकोप और कीटनाशकों से होने वाले नुकसान को कम करने के लिए एलइडी लाइट ट्रेप लगाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।