गेहू का ये किस्म देगा 90 क्विंटल प्रति हेक्टेयर पैदावार,किसानो को होगा मुनाफा,जानिए इसकी खासियत के बारे में

 
h

खरीफ का सीजन देश में लगभग खत्म होने वाला है.बाजरा,ज्वार और दूसरी फसलों के खेत धीर धीरे खाली होने लगे है किसान रबी की फसलों की बुवाई के लिए खेतो को तैयार कर रहे है और इस मौसम में मध्य्प्रदेश में गेहू बड़ी बड़ी मात्रा में उगाया जाता है .ऐसे में आज हम आपको गेहू की ऐसी किस्म के बारे में बताते है जिसका उत्पादन 95.32 क्विंटल होता है . 

h

आपको बता दे की गेहू की किस्मो के बिच इस समय सबसे ज्यादा उत्पादन देने वाली वेरायटी में ही - 8663 का सबसे आगे है .इसकी उत्पादकता की बात करें तो 95.32 क्विंटल प्रति हेक्टर बताया जा रहा है.hi -8663 एक जीनोटाइप ,उच्च गुणवत्ता और ज्यादा उत्पादकता वाला गेहू का बीज है .

h

hi -8663 में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते है इसलिए बाजार में इसकी काफी ज्यादा डिमांड रहती है .इस गेहि की रोटी के अलावा सूजी और पास्ता भी बनाया जाता है .इसमें प्रोटीन की मात्रा ज्यादा पायी जाती है .आपको बता दे की नवबंर का महीना गेहू की बुवाई के लिए बिलकुल सही रहता है,लेकिन इस किस्म को दिसंबर के महीने में भी बोया जा सकता है .वही यह बाकी किस्मो से जल्दी तैयार हो जाती है और गर्मी को भी आसानी से सहन कर सकती है.इस किस्म को मध्यप्रदेश में उगाया जा रहा है .गेहू की खेती के लिए समशीतोष्ण जलवायु की जरूरत होती है,इसकी खेती के लिए अनुकूल तापमान बुवाई के समय 20-25 डिग्री सेंटीग्रेट उपयुक्त माना जाता है.गेहू की खेती मुख्यत सिचाई पर आधारित होती है गेहू की खेती के लिए दोमट भूमि सर्वोत्तम होती है।