सेब का सिरके का बहुत ज्यादा करते है इस्तेमाल, तो आज ही छोड़े शरीर के इन अंगो को बुरी तरह करता है प्रभावित

 
zxz

इन दिनों एप्पल साइडर विनेगर काफी लोकप्रिय उपचार में से एक बन गया है। हालाँकि इसका इस्तेमाल सदियों में खाना पकाने और दबाव में किया जाता है। एप्पल साइडर विनेगर से उच्च कोलेस्ट्रॉल रक्त शर्करा के स्तर को, मोटापे को और उच्च रक्तचाप सहित अन्य बीमारियों को कंट्रोल में किया जा सकता है। इसके साथ यह एग्जिमा और पेट के एसिड और रिफ्लेक्स में भी काफी ज्यादा मदद करता है । 

दांतों के इनेमल को नुकसान पहुंचा सकता है सिरका
कई शोध के मुताबिक ये पता चलता है सेब के सिरके में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल दोनों गुण मौजूद होते है। इनमे एंटी ओरल बायोफिल्म प्रभाव भी देखने को मिलता है। ओरल हेल्थ में इसका उपयोग डेंटल प्लाक के रूप में भी किया जाता है। यह दांतो के बेक्टीरियाँ की एक चिपचिपी पार्ट होती है यानि की यह हमारे दांतो से प्लाक के स्तर को कम करने में सक्षम हो सकता है हालांकि इसके लिए भी अभी तक कोई अध्ययन नहीं किया गया है। सेब के सिरके से दांतो के पलक को कम करना कच्चा विकल्प माना जाता है क्योकि इसमें एसिड की उच्च मात्रा पाई जाती है। यह दांतो के टिशूज को खराब होने से बचता है। यह दांतों के इनेमल को भी नुकसान पहुंचा सकता है। सिरका में पाए जाने वाला एसिड दांतो को कमजोर कर सकता है। 

सिरके से दांतों को होने वाले नुकसान से कैसे बचाएं
अगर आप सेब के सिरके का नियमित रूप से इस्तेमाल से करते है और दांतो को भी नुकसान से बचाना चाहते है। तो आप सेब के सिरके को पानी में घोल लेवे। और अपने दांतो की सुरक्षा के लिए इसे स्ट्रा से पिए या फिर आप भोजन के साथ में भी इसका सेवन कर सकते है। आपको ऐसे उत्पादों से बचना है जिन्हे काफी अधिक चबाने की जरुरत है। जैसे चेविंगम.सेब के सिरके को पीने के बाद सीधे अपने दांतों को ब्रश ना करें इसके बजाय आ लगभग आधा घंटा इंतजार करने के बाद ब्रश करें। 

सेब के सिरके से और क्या-क्या नुकसान हो सकता है
एप्पल विनेगर में एसिड की मात्रा बहुत ज्यादा होती है जो खून में पोटेशियम के लेवल को गिरा सकता है। अगर आप सीधे तौर पर एप्पल विनेगर का सेवन करते हैं तो हड्डियों में मिनरल घनत्व कम हो जाता है और हड्डियां धीरे-धीरे कमजोर होने लगती है। आपको ओस्टियोपोरोसिस की समस्या हो सकती है। सेब के सिरके का बहुत ज्यादा सेवन करते हैं तो आपके शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा को कम कर देता है, जिससे हाइपोग्लाइसीमिया की समस्या हो सकती है। also read : 
Coffee Health Benefits : क्या सुबह के समय खाली पेट करना चाहिए चाय या कॉफी का सेवन, जानिए एक्सपर्ट्स की राय