कोरोना के नए वैरिएंट ने फिर डाला चिंता में जानिए इसके विरुद्ध वैक्सीन कितनी असरदार

 
PIC

कोरोना संक्रमण से राहत तो मिली है लेकिन इसके अंत के बारे में अभी तक कोई पुख्ता स्टडी सामने नहीं आई है इस बीच कोविड के अमेरिकन वैरिएंट का नया सब वैरिएंट चिंता बढ़ाने लगा है ओमिक्रान का सब वैरिएंट BA 4 .6 अमेरिका में तेजी से फैल रहा हे इसके UK में भी फैलने की पुष्टि की गई हे UK स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी को कोविड वैरिएंट पर लेटेस्ट ब्रीफिंग के अनुसार 14 अगस्त से शुरू होने वाले सप्ताह के दौरान UK में 3 .3 % मरीजों के लिए गए सैंपल में BA 4 .6 मिला है

PIC
अमेरिका के रोग कंट्रोल और रोकथाम केंद्रों के अनुसार BA 4 .6 अब पुरे अमेरिका में हाल के मामलों के 9 % से अधिक के लिए जिम्मेदार है दुबिया भर के कई अन्य देशों में भी ओमिक्रान के इस सब वैरिएंट की पहचान हुई है ऐसे में ओमिक्रान के BA 4 .6 सब वैरिएंट को लेकर चिंतित होना चाहिए या नहीं 
यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है की BA 4 .6 कैसे उभरा लेकिन यह एक पुन संयोजक संस्करण हो सकता है पुनर्संयोजन तब होता है जब SARS -CoV -2 दो अलग -अलग प्रकार एक ही इंसान को एक ही समय में संक्रमित करते है जबकि BA 4 .6 कई मायनों में BA .4 के समान होगा यह स्पाइक प्रोटीन में उत्परिवर्तन करता है वायरस की सतह पर एक प्रोटीन जो इसे हमारी कोशिकाओं में प्रवेश करने की अनुमति देता है 

PIC
लेकिन हम यह भी जानते है की ओमिक्रान सबवेरिएंट पिछले वैरिएंटकी तुलना में अधिक ट्रांसमिसिबल होते है ऑक्सफोर्ड विश्विधालय ने बताया है की जिन लोगों को फाइजर के मूल कोविड वैक्सीन की 3 खुराक मिली थी वे BA 4 या BA 4 .6 की प्रतिक्रिया में कम एंटीबॉडी का उत्पादन करते है ऐसे में हमें वैक्सीनेशन को गंभीरता से लेना जरुरी है कई रिपोर्ट में दवा किया गया है की वैक्सीनेशन गंभीर बीमारी के खिलाफ अच्छी सुरक्षा देता है इतना ही नहीं महामारी की विरुद्ध वेक्सीन ही अब तक का सबसे ज्यादा कारगर हथियार है