इन लोगों को हो सकता है मंकी पॉक्स से ज्यादा खतरा ,WHO ने दिए ये निर्देश

 
pic

WHO ने हाल ही में मंकिपॉक्स को वैश्विक बीमारी बताते हुआ पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी का एलान कर दिया है और साथ ही इसे वैश्विक चिंता का विषय बताया है मंकीपॉक्स के विषय में रीजनल डायरेक्टर WHO साउथ एस्ट एशिया रीजन पूनम खेत्रपाल सिंह का कहना है की मंकीपॉक्स उन देशों में भी फैलता हुआ देखा जा रहा है जहां पहले कभी नहीं देखा था अब इंडिया में भी इसके बढ़ते मामले सामने आए है आज हम आपको बताएंगे की किन लोगों को मंकी पॉक्स का खतरा है और इस संबंध में कोनसी जरुरी सावधनियां बरतनी चाहिए 

pic
मंकी पॉक्स ,मंकीपॉक्स वायरस के कारण होता है जो की ओर्थोपॉक्सवायरस  जिनस मेंबर है 
मंकीपॉक्स होने पर व्यक्ति की बॉडीपर 2 से 4 सफ्तों तक लक्षण दिखाई दे सकते है इसकी मृत्युदर फिलहाल 3 से 6 % के बीच है WHO के अनुसार मंकीपॉक्स उन लोगों को फैलता है जो हफ्ते में मंकीपॉक्स से पीड़ित हो जो इंसान मंकीपॉक्स के मरीज के बहुत करीब रहता हो उसके लिए इस वायरस की चपेट में आने का खतरा बढ़ जाता है 
WHO का कहना है जो पुरुष आपस  में सेक्स करते है यानि समलैंगिक पुरुष उनमें मंकीपॉक्स फैलने का खतरा ज्यादा है 
मंकीपॉक्स बॉडी फ्लुइड्स और पोदित इंसान के साथ सोने पर फ़ैल सकता है 

pic
मंकीपॉक्स होने पर इंसान को बुखार रैशेज सुजम और अन्य मेडिकल कोमलिकेशंस हो सकते है 
स्मॉलपॉक्स के लिए भी बनाए गए एंटीवायरस ट्रीटमेंट  को ही मंकीपॉक्स के लिए उपयोग किया जाता है 
WHO मंकीपॉक्स से बचाव के लिए जंगली जानवरों  से बचकर रहे खासकर उनसे दुरी  बनाकर रखें जो बीमार हो या मारे हुआ हो इन जानवरों के मीट खून और अन्य हिस्सों से भी पूरी तरफ दुरी बनाकर रखें 
जब तक मीट पूरी तरफ पका हुआ हो उसे ना खाएं 
इसके अलावा पालतू जानवर अगर संक्रमित  हो जाए तो उसे 30 दिनों तक अलग करके रखें