योगर्टऔर दही: क्या आप योगर्ट और दही के बीच का अंतर समझते हैं अगर नहीं तो यहां जाने

 
.

योगर्ट और दही के बीच का अंतर:अगर आप दही और योगर्ट के बीच अंतर का सवाल कई लोगों से पूछेंगे तो वह चकरा जाएंगे दरअसल यह एक ऐसा सवाल है जिसका जवाब बहुत ही कम लोगों को मालूम है|

योगर्ट और दही के बीच का अंतर:अगर आप दही और योगर्ट के  बीच अंतर का सवाल कई लोगों से पूछेंगे तो वह चकरा जाएंगे दरअसल यह एक ऐसा सवाल है जिसका जवाब बहुत ही कम लोगों को मालूम है आज हम आपको इन दोनों के बीच का अंतर इस आर्टिकल में समझाने जा रहे हैं- 

दोनों को बनाने का तरीका अलग-अलग है-

दूध के फटने से दही बनने का प्रोसेस शुरू होता है दही को बनाने के लिए दूध में नींबू का रस या सिरका जैसी एसिडिक सब्सटेंस या फिर पहले से बना हुआ दही के द्वारा दही बनाया जाता है|
-दूध के बैक्टीरियल फर्मेंटेशन के बाद योगर्ट बनता है. Lactobacillus bulgaricus जैसे बैक्टीरिया का इस्तेमाल योगर्ट कल्चर में किया जाता है|
-अलग-अलग फ्लेवर्स का इस्तेमाल योगर्ट को बनाने में किया जाता है|
-सामान्यता दही एक ही फ्लेवर का होता है|
-योगर्ट को घर पर बनाना आसान काम नहीं है यह एक इंडस्ट्रियल प्रोडक्ट है इसे प्रोसैस्ड फूड में गिना जाता है|
-वहीं अगर दही की बात करें तो इसे आप घर पर भी अलग तरीके से  जमा सकते हैं|

न्यूट्रिशनल डिफरेंस

-योगर्ट में विटामिन-B12,फास्फोरस और कैल्शियम जैसे न्यूट्रिशंस पाए जाते हैं|
-दही में विटामिन-B6,फॉस्फोरस,कैल्शियम,पोटेशियम,आयरन जैसे न्यूट्रिशंस पाए जाते हैं|

शरीर को पहुंचाते हैं अलग-अलग फायदे

-योगर्ट का इस्तेमाल कोलेस्ट्रोल और ब्लड प्रेशर जैसी समस्याओं के निवारण के लिए किया जाता है|
-दही का इस्तेमाल शरीर की डाइजेशन समस्याओं के लिए शरीर में फुर्ती के लिए और दिमाग के लिए उपयोग किया जाता है|
-दही का इस्तेमाल और भी कई जगह किया जाता है जैसे कि बालों में लगाना और इसका इस्तेमाल उबटन तक में भी किया जाता है|