कुंवारी लड़कियां किस तरह रखें करवा चौथ का व्रत ,जानिए इसके नियम और विधि

 
PIC

करवा चौथ का व्रत सुहागिन स्त्रियां पति की दीर्घायु के लिए रखती है लेकिन मान्यता के अनुसार कुंवारी लड़कियां भी करवा चौथ का व्रत कर सकती है इनके लिए व्रत के नियम अलग होते है 

PIC
करवा चौथ का व्रत कार्तिक माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को हर साल रखा जाता है इस बार करवा चौथ 13 अक्टूबर 2022 को है इस दिन विवाहित महिलाऐं निर्जला व्रत रख सुहाग की रक्षा और अखंड सौभाग्य की कामना करती है ये सुहाग का पर्व है लेकिन कुंवारी लड़कियां जिनका विवाह तय हो गया है वो भी ये व्रत कर सकती है हालांकि कुंवारी लड़कियों के लिए पूजा विधि और व्रत के नियम अलग होते है 
जो कुंवारी लड़कियां करवा चौथ का व्रत कर रही है उन्हें निर्जल व्रत नहीं करना चाहिए अविवाहित लड़कियां निराहार व्रत रख सकती है मान्यता है की निर्जल व्रत में पति के हाथों ही पानी पीकर व्रत का पारण किया जाता है साथ ही उन्हें सरगी भी नहीं मिल पाती ऐसे में शादी से पहले निर्जल व्रत करना उचित नहीं 

PIC
करवा चौथ व्रत में कुंवारी लड़कियों को सिर्फ शंकर पार्वती की पूजा करनी चाहिए और व्रत की कथा सुनें अविवाहित लड़कियों के ली चन्द्रमा की पूजा करने का विधान नहीं है 
कुंवारी लड़कियों को करवा चौथ पर चांद की बजाय तारे देखकर व्रत का पारण करना चाहिए इसमें कर्वे की जगह पानी से भरा कलश इस्तेमाल करें करवा का इस्तेमाल शादी के बाद ही करना चाहिए 
छलनी से चांद देखने की रिवाज सिर्फ सुहागिनों के लिए होती है इसलिए करवा चौथ पर कुंवारी लड़कियां को छलनी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए