Gujarat election 2022: जानिए असदुद्दीन ओवैसी का मास्टरप्लान और AIMIM की रणनीति

 
.

गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 में सत्तारूढ़ बीजेपी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के अलावा ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) की भी खूब चर्चा है। एआईएमआईएम का विस्तार तेलंगाना से आगे भी हो रहा है। गुजरात के मुस्लिम और दलित वोटरों पर पार्टी की नजर है, इसके लिए पार्टी प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी लगातार गुजरात में रैलियां और सभाएं कर रहे हैं।ओवैसी ने गुजरात में ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने के लिए 'मास्टरप्लान' बनाया है।

.

मास्टरप्लान क्या है?

गुजरात चुनाव में दो हफ्ते का समय बचा है। असदुद्दीन ओवैसी और उनकी पार्टी मुस्लिम वोटरों को रिझाने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रही है। मास्टरप्लान के मुताबिक एआईएमआईएम 15 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार रही है, पार्टी ने चुनाव के लिए 20 लोगों की सोशल मीडिया टीम को मैदान में उतारा है, जो दिन-रात प्रचार में लगी हुई है।

.

असदुद्दीन ओवैसी की 17 रैलियां

पार्टी प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी खुद गुजरात में 17 रैलियां करेंगे। इसके अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेता इम्तियाज जलील, वारिस पठान और हैदराबाद के 7 विधायक चुनावी जनसभाएं कर रहे हैं।जबकि अकबरुद्दीन ओवैसी भी चुनाव के आखिरी वक्त में पार्टी का प्रचार करने गुजरात आएंगे।एआईएमआईएम ने अहमदाबाद में पांच उम्मीदवार उतारे हैं। पार्टी ने अहमदाबाद की दानिलिमदा सीट से हिंदू उम्मीदवार कौशिका परमार को मैदान में उतारा है। ओवैसी ने चुनाव में दलित उम्मीदवारों को भी टिकट दिया है। इन सबके बीच AIMIM का चुनाव प्रचार जोरों पर चल रहा है।

.

गुजरात चुनाव और भी दिलचस्प होता जा रहा है

वहीं, सभी पार्टियां अपनी-अपनी राजनीतिक चालों से एक-दूसरे को हराने में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं। जैसे-जैसे चुनाव करीब आ रहा है, गुजरात चुनाव और भी दिलचस्प होता जा रहा है। यहां की 182 विधानसभा सीटों के लिए एक और पांच दिसंबर को मतदान होना है। जबकि चुनाव के नतीजे आठ दिसंबर को आएंगे।