आईपीएल की पॉइंट्स टेबल, पंजाब की मुश्किलें बढ़ी, मुंबई और बेंगलुरु ने जीते मैच, आसान हुई राह

 
ass

इंडियन आईपीएल के 16वें सीज़न में सोमवाए को हुए मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स ने आखिरी बॉल पर चुका लगाकर पंजब किंग्स की टीम को हराया है। इस रोमाचंक जीत ने कोलकाता को पॉइंट्स टेबल में 8वें से सीधे 5वें नंबर पर पहुंचा दिया। वहीं पंजब की टीम के लिए भी अब मुश्किलें पैदा हो गयी है टीम को प्लेऑफ में क्वालिफाई करने के लिए सभी मुकाबले जीतने ही होंगे। 

आपको बता दे, टूर्नामेंट में लीग स्टेज के 53 मैच हो चुके हैं। आज मुंबई इंडियंस और और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच में 54वां मैच होगा। वहीं जितने वाली टीम को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए आसान रह मिल जाएगी। टूर्नामेंट के बचे हुए 17 मैचों से प्लेऑफ की टॉप-4 टीमें तय होंगी, क्योंकि कोई भी अब तक न तो क्वालिफाई कर सकी है और न ही रेस से बाहर हुई है। आगे पोस्ट में हम आपको सभी टीमों की पॉइंट्स टेबल की सिचुएशन के बारे में बताने जा रहे है। तो आइए देखते है कौनसी टीम कहा पर है। 

क्वालिफाई करने के लिए कितने मैच जीतने होंगे?
IPL में पिछले सीजन से 10 टीमें शामिल की गई हैं, लेकिन एक टीम लीग स्टेज में ज्यादा से ज्यादा 14 मैच ही खेलेगी। ऐसे में टूर्नामेंट के इस स्टेज पर 16 से ज्यादा पॉइंट हासिल करने वाली टीम क्वालिफाई कर जाएगी। वहीं 14 से कम पॉइंट रखने वाली टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो जाएगी।
लीग स्टेज के आखिरी में एक या 2 टीमें 16 पॉइंट्स के साथ भी प्लेऑफ में क्वालिफाई कर जाएगी। लेकिन इसके लिए उन्हें अपना रन रेट बाकी टीमों से बेहतर रखना होगा, क्योंकि टूर्नामेंट में 53 मैचों के बाद अब भी कम से कम 5 टीमें 16 पॉइंट्स के साथ लीग स्टेज फिनिश कर सकती है। ऐसे में टॉप-4 में बने रहने के लिए टीमों को रन रेट मैंटेन करना भी बेहद जरूरी है।

रिंकू ने KKR को 3 स्थान की छलांग लगवाई
कोलकाता नाइट राइडर्स ने सोमवार को अपने होम ग्राउंड पर पंजाब किंग्स को रोमांचक मुकाबले में 5 विकेट से हराया। KKR को आखिरी गेंद पर 2 रन चाहिए थे, रिंकू सिंह ने लॉन्ग लेग की दिशा में चौका लगाया और टीम को जीत दिला दी। इस जीत से कोलकाता के 11 मैचों में 5 जीत से 10 पॉइंट्स हो गए और टीम एक ही मैच के नतीजे से 8वें नंबर से 3 स्थान की छलांग लगाकर पांचवें नंबर पर पहुंच गई।
टीम को अब 3 मैच राजस्थान, चेन्नई और लखनऊ के खिलाफ खेलने हैं। तीनों मुकाबले जीतने और बाकी टीमों से बेहतर रन रेट रखने पर KKR क्वालिफाई कर जाएगी। एक भी मैच हारने पर उन्हें बाकी टीमों के नतीजों पर निर्भर रहना होगा। वहीं 2 या उससे ज्यादा मैच हारने पर टीम टॉप-4 की रेस से बाहर हो जाएगी।

पंजाब के लिए साफ हुआ रास्ता 
कोलकाता के खिलाफ आखिरी बॉल पर हार से पंजाब किंग्स की मुश्किलें बढ़ गईं। टीम इस वक्त 11 मैचों में 5 जीत और 6 हार से 10 पॉइंट्स के साथ पॉइंट्स टेबल में 7वें नंबर पर है। टीम को पिछले 4 में से 3 मुकाबलों में हार झेलनी पड़ी। इनमें एक जीत भी चेन्नई के खिलाफ आखिरी बॉल पर आई।
टीम को अब 3 में से 2 मुकाबले दिल्ली और एक मैच राजस्थान के खिलाफ खेलना है। टीम को प्लेऑफ में क्वालिफाई करने के लिए तीनों मुकाबले जीतने ही होंगे, साथ ही अपना रन रेट भी बाकी टीमों से बेहतर रखना होगा। एक भी मैच हारने पर टीम को बाकी टीमों के नतीजों पर निर्भर रहना होगा। 2 या उससे ज्यादा मैच हारने पर टीम टॉप-4 की रेस से बाहर हो जाएगी।

मुंबई की टीम 
मुंबई इंडियंस को आज अपने होम ग्राउंड पर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ मैच खेलना है। टीम इस वक्त 10 मैचों में 5 जीत और 5 हार के बाद 10 अंक लेकर पॉइंट्स टेबल में 8वें नंबर पर है। आज बेंगलुरु पर बड़ी जीत दर्ज करने से टीम राजस्थान को पीछे कर चौथे नंबर पर पहुंच सकती है। यहां से मुंबई अगर बचे हुए सभी मुकाबले भी जीत जाती है तो प्लेऑफ में सीधे क्वालिफाई कर जाएगी।

3 मैचों में 2 हार के बावजूद RCB की उम्मीदें बरकरार
बेंगलुरु ने मुंबई को सीजन के अपने पहले ही मैच में 8 विकेट से हराया था। टीम इस वक्त मुंबई की ही तरह 10 मैचों में 5-5 हार और जीत के बाद 10 पॉइंट्स लिए हुए हैं। लेकिन बेहतर रन रेट के कारण RCB छठे नंबर पर है। आज का मैच बड़े अंतर से जीतने पर टीम चौथे नंबर पर पहुंच सकती है।

गुजरात टाइटंस और चेन्नई सुपरकिंग्स 
गुजरात टाइंटस इस वक्त 11 मैचों में 8 जीत के बाद 16 पॉइंट्स लेकर पहले नंबर पर है। उन्हें प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए बचे हुए 3 में से एक ही मुकाबले में जीत दर्ज करनी है। लेकिन सभी मुकाबले बड़े अंतर से हारने की स्थिति टीम अब भी टॉप-4 की रेस से बाहर हो सकती है।

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स 11 मैचों में 6 जीत और एक बेनतीजा मुकाबले के बाद 13 पॉइंट्स लेकर दूसरे नंबर पर है। चेन्नई को टॉप-4 टीमों में बने रहने के लिए बचे हुए 3 में से 2 मुकाबले जीतने होंगे। एक ही मैच जीतने पर टीम को बाकी टीमों के नतीजों पर निर्भर रहना होगा। वहीं तीनों मुकाबले हारने पर टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाएगी।

इन 6 टीमों को जितने है सभी मैच 
कोलकाता और पंजाब की ही तरह लखनऊ सुपरजायंट्स , राजस्थान रॉयल्स, सनराइजर्स हैदराबाद और दिल्ली कैपिटल्स को भी प्लेऑफ में पहुंचने के लिए अपने बचे हुए सभी मुकाबले जीतने ही होंगे। एक भी मुकाबला हारने पर इन टीमों को बाकी टीमों के नतीजों पर निर्भर रहना होगा। वहीं 2 या उससे ज्यादा मुकाबले हारने पर टीमें प्लेऑफ की रेस बाहर हो जाएंगी और बाकी टीमें क्वालिफाई कर जाएंगी।

लखनऊ 
लखनऊ को छोड़ बाकी टीमों को टॉप-4 में पहुंचने के लिए अपने सभी मुकाबले जीतने के साथ अपना रन रेट भी बाकी टीमों से बेहतर रखना होगा। वहीं लखनऊ अगर अपने बचे हुए तीनों मुकाबले जीत गई तो क्वालिफाई कर जाएगी। क्योंकि उनके फिलहाल 11 मैचों में 11 पॉइंट्स और आखिरी 3 मैचों में जीत से टीम के 17 पॉइंट्स हो जाएंगे। वहीं बाकी टीमों के सभी मैच जीतने पर भी 16 ही पॉइंट्स होंगे और टॉप-4 में क्वालिफाई करने के लिए टीमों को 16 से ज्यादा ही पॉइंट्स रखने हैं। also read : 
IPL 2023 : सनराइजर्स के लिए काफी महंगा साबित हुआ ये प्लेयर, टीम इंडिया में नहीं मिलेगा खेलने का मौका