भारतीय टीम के इस तेज गेंदबाज को नहीं मिला टीम में मौका, BCCI के एक कदम से पूरी तरह तबाह हुआ करियर

 
zxz

टीम इंडिया के ज्यादातर खिलाड़ी 31 मार्च से इंडियन प्रीमियर लीग के 16वें सीजन में धमाल मचाते हुए नजर आएंगे। ऐसे में एक और प्लेयर है जो अब शायद ही कभी टीम का हिस्सा बन पाएगा। दरअसल, हाल ही में BCCI ने कुछ ऐसी घोषणाएं की है जिससे कयास लगाए जा रहे है कि ये प्लेयर अब टीम का हिस्सा नहीं रहेगा। तो आइए जानते है कौन है ये खिलाड़ी। 

इस बार IPL में मचेगा कोहराम 
आईपीएल दुनिया की सबसे अमीर टी20 लीग है, जिसके 16वें सीजन की शुरुआत 31 मार्च से होगी। लीग में पिछले सीजन की तरह 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं।  सीजन का पहला मुकाबला मौजूदा चैंपियन गुजरात टाइटंस और 4 बार के विजेता चेन्नई सुपर किंग्स के बीच होगा। सीएसके की कप्तानी दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी संभाल रहे हैं जबकि गुजरात टीम की कमान धुरंधर ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के पास है। सभी टीमों की कोशिश आईपीएल की चमचमाती ट्रॉफी जीतने की है। 

इस खिलाड़ी का करियर खत्म?
टीम इंडिया के एक खिलाड़ी को एक बार फिर से प्लेइंग-11 में मौका मिल पाना मुश्किल नजर आ रहा है। इसके पीछे कई कारण है एक कारण तो यह है कि यह खिलाड़ी पिछली किसी भी सीरीज़ का हिस्सा नहीं बन पाया था। जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी टेस्ट सीरीज खेली, तब भी वह खिलाड़ी टीम से बाहर रहा। इतना ही नहीं, टीम इंडिया को जब ऑस्ट्रेलिया से 3 मैचों की वनडे सीरीज में हार मिली, तब भी वह पेसर बाहर ही था। अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने उन्हें सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट का हिस्सा नहीं बनाया है। 

सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट का हिस्सा नहीं 
हाल ही में BCCI ने रविवार को सेन्ट्रल कॉन्ट्रेक्ट के खिलाड़ियों के नामों कि लिस्ट जारी की है। इसमें अलग अलग ग्रेड में खिलाड़ियों को रखा गया है। इनमें ए प्लेस ग्रेड में टीम के मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा, पूर्व कप्तान विराट कोहली, धुरंधर ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा और स्टार पेसर जसप्रीत बुमराह हैं। जसप्रीत बुमराह चोट के चलते बाहर हैं लेकिन टॉप ग्रेड में बरकरार रखा है। वहीं, पेसर हर्षल पटेल किसी भी ग्रेड का हिस्सा नहीं हैं। ऐसा लग रहा है कि हर्षल किसी भी तरह से बीसीसीआई के प्लान का हिस्सा नहीं हैं। 

इन खिलाड़ियों को अब तक 20 फॉर्मेट में मिल चुका है हिस्सा 
हर्षल को टीम इंडिया के लिए केवल एक ही फॉर्मेट में खेलने का मौका मिला है। उन्होंने अभी तक के करियर में 25 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं, जिसमें 29 विकेट चटके है। फर्स्ट क्लास करियर में वह 232 विकेट ले चुके हैं, जिसमें उनका बेस्ट 34 रन पर 8 विकेट है। उन्हें आज तक टेस्ट और वनडे फॉर्मेट में डेब्यू का ही मौका नहीं मिल पाया है। वह इसी साल जनवरी में श्रीलंका के खिलाफ वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए टी20 मैच में टीम इंडिया का हिस्सा थे। also read ; 
धोनी-धोनी... की ऐसी गूंज से उमड़ पड़ा Chepauk स्टेडियम, वीडियो देखकर आपकी कांप उठेगी रूह