Ashadha amavasya 2022 : इस आषाढ़ मास की अमावस्या को जरूर करे ये काम,होंगे कई लाभ

 
G

आषाढ़ मास में पड़ने वाली अमावस्या को आषाढ़ी अमावस्या कहते है ज्योतिष के अनुसार जीवन में खुशहाली के लिए इस दिन विधि विधान से कृषि यंत्रो की पूजा की जाती है। हर महीने में अमावस्या आती है लेकिन आषाढ़ माह के पड़ने वाली अमावस्या की तिथि को पूजा पाठ करने और स्नान करके पितरो की पूजा करने से बेहद लाभ होते है इस बार ये 28 जून को है यह दिन किसानो के लिए बेहद खास है इस दिन किसान अपने सभी कृषि उपकरणों का विधि विधान से पूजा करते है 

G

हिन्दू धर्म में ऐसा माना जाता है की अमावस्या के दिन आसुरी शक्तिया ज्यादा सक्रिय होती है ऐसे में अमावस्या के दिन स्नान करके अपने पूर्वजो का ध्यान करे उन्हें अर्ध्य दे ऐसा करने से नकारात्मक शक्तिया खत्म होती है। इस दिन पितरो को खुश करने के लिए सुबह नदी में स्नान करना चाहिए अंजुली में जल लेकर सूर्य को अर्ध्य देना चाहिए और सूर्य देव को जल चढ़ाये। 

G
 
भारत कृषि प्रधान देश है अच्छी फसल के लिए किसान वर्षा के देवता इंद्र और भगवान सूर्य की पूजा करते है उन्हें प्रस्सन करते है और पूरी विधि विधान से पूजा करते है ऐसा माना जाता है की आषाढ़ अमावस्या के दिन पूजा पाठ करने से फसल का उत्पादन ज्यादा होता है जिससे जन जीवन खुशहाल हो जाता है