Vivah Muhurat 2022: देवउठनी एकादशी पर इस बार नहीं है विवाह का शुभ मुहूर्त ,जानिए नवंबर और दिसंबर में कब है विवाह का शुभ मुहूर्त

 
PIC

देवशयनी एकादशी पर भगवान विष्णु क्षीर निद्रा में चले जाते है चातुर्मास तक श्रीहरि का शयनकाल शुरू होता है जो कार्तिक माह की देवउठनी एकादशी को समाप्त होगा चातुर्मास 10 जुलाई 2022 से शुरू हुआ था इसका समापन देवउठनी एकादशी यानि 4 नवंबर 2022 को होगा चातुर्मास में मुंडन शादी जनेऊ संस्कार नामकरण जैसे कामों पर रोक लग जाती है और देवउठनी एकादशी के बाद विवाह और सभी मांगलिक काम शुरू हो जाते है .

PIC
साल 2022 में नवंबर में देव जागने के बाद विवश शुरू हो जाएंगे दिसंबर में भी शादियों के मुहूर्त है वास्तु के अनुसार इस बाद देवउठनी पर शादी का मुहूर्त नहीं है देवउठनी एकादशी पर शुक्र अस्त है विवाह के मामले में ग्रह -नक्षत्रों पर सितारों की स्थितियों को देखकर ही विवाह के मुहूर्त निकाले जाते है.
नवंबर 2022 में शादी के मुहूर्त 
21 नवंबर 2022 
24 नवंबर 2022 
25 नवंबर 2022 
27 नवंबर 2022 
2 दिसंबर 2022 
7 दिसंबर 2022 
8 दिसंबर 2022
9 दिसंबर 2022 
14 दिसंबर 2022

PIC
देवउठनी एकादशी को देवप्रबोधिनी एकादशी भी कहते है इस दिन माता तुलसी और भगवान शालीग्राम के विवाह की रिवाज है धार्मिक मान्यता के अनुसार कोई भी मांगलिक देवी -देवताओं की पूजा के बिना संभव नहीं धार्मिक मान्यता के अनुसार इस समय में नेगेटिव शक्तियों का तेज बढ़ जाता है जिनका मांगलिक कार्यों पर भी असर पड़ता है इसलिए इन 4 महीनों में कोई शुभ काम नहीं होता है .