pitru paksha 2022 : अगर लग गया है पितृ दोष,तो इससे मुक्ति पाने के लिए अपनाए इन सरल उपाय को

 
g

पितृ पक्ष के समय पितरो का तर्पण और पिंडदान किया जाता है.धार्मिक मान्यता के अनुसार पितृ पक्ष के समय पितृ देव पृत्वी लोक पर आते है और अपने वंशजो द्वारा किए गए तर्पण,पिंडदान से तर्प्त होते है.पितृ पक्ष,पितृ दोष से मुक्ति पाने के सबसे अच्छा अवसर होता है.ऐसा माना जाता है की पितरो के आशीर्वाद से ही परिवार सुखी रहता है.वही अगर पितृ देव नाराज होते है कई पीढ़ियों को पितृ दोष का दंश झेलना पढता है। तो चलिए जानते है पितृ दोष के लक्षण क्या है इससे निजात पाने के लिए किन तरीके को अपना सकते है 

h

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार जब मृत्यु के बाद मृतक के अंतिम संस्कार में किसी तरह की कोई कमी रह जाती है तो ऐसे में पितृ दोष लगता है .ऐसा माना जाता है की अकाल मोत हो जाने पर परिवार के लोगो को कई पीढ़ियों तक पितृ दोष का दंश झेलना पढता है .ज्योतिष के अनुसार पितृ दोष को अशुभ माना जाता है इससे मनुष्य के जीवन में दुर्भाग्य बढ़ता है .

घर में पितृ दोष के निजात पाने के लिए पितरो की तस्वीर दक्षिण दिशा में लगाए .रोज उनसे अपनी गलती की मांफी मांगे .ऐसा माना जाता है की पितृ दोष के समय ऐसा करने से पितृ दोष कम होने लगता है.पितृ पक्ष के समय रोज घर में शाम के समय दक्षिण दिशा में तेल का दीपक लगाए .ऐसा करने से पितृ दोष खत्म हो जाता है .

h

पितृ पक्ष में ब्राह्मण को भोजन कराए उन्हें दान करे और हर साल की एकादशी,चतुर्थी,अमावस्या पर पितरो को जल अर्पित करे.पितृ पक्ष में पितृ दोष शांति के लिए रोज दोपहर के समय पीपल की पूजा करे.साथ ही पितरो की खुश करने के लिए पीपल में गंगाजल में काले तिल,दूध,चावल ,फूल मिलाकर चढ़ाये।