1 अप्रेल से बंद होगी ये कारे,हौंडा की 5,महिंद्रा की 3,हुंडई की 2 कारे होगी डिस्कन्टीन्यु,जानिए इनके बारे में

 
f

अगर आप भी कार खरीदने का प्लान बना रहे है तो आपको बात दे की अप्रेल 2023 के बाद भारतीय कार मार्केट में 17 कारे डिस्कन्टीन्यु हो जाएगी। इनमे सबसे ज्यादा हौंडा की पांच,महिंद्रा की तीन,हुंडई और स्कॉड को दो दो,रेनो ,निशान ,मारुती सुजुकी,टोयोटा और टाटा की एक एक कारे है।अधिकतर कार डीजल की है।अगर इन कारो में से कोई आपकी लिस्ट में है तो आपको परेशानी हो सकती है।भारतीय ऑटो इंडस्ट्री में 1 अप्रेल 2023 में बाद रियल ड्राइविंग एमिशन के नए नॉर्म्स शुरू हो जाएगे।इन नियमो के लागु होते ही कार निर्माता कंपनिया को पानी कारो के इंजन या तो अपडेट करने होंगे या इन्हे डिस्कन्टिन्यू करना होगा। 

हौंडा से की शुरुआत 

सरकार की सख्ती को देखे हुए हाल ही में हुंडई अपनी i20 कार के डीजल वेरिएंट को बंद कर चुकी है।इससे पहले टोयोटो और फॉक्सवेगन भी अपनी डीजल करो को बंद करने की घोषणा कर चुकी है। also read : होंडा हो या मारुति, बेहद कम खर्चे में लम्बे समय तक चलेगी आपकी कार, अपनाएं ये आसान ट्रिक

नए नियम के अनुसार करना होगा गाड़ी में बदलाव 

वाहनों को आरडीई के मुताबित बस्य६ फेज २ के नियमो पर रियल वर्ल्ड कंडीशन में खरा उतरना होगा। ऐसा नहीं होने पर कार मेकर्स कंपनियों को गाड़ियों को बिक्री बंद करनी पड़ेगी। 

लोगो की जेब पर होगा असर 

नए एमिशन नॉर्म्स के मुताबित गाड़िया बनाने के लिए कंपनिया कीमते बढ़ा रही है,क्युकी मॉडलों के इंजनों को अपडेट करना पड़ा रहा है। पिछली बार 2020 में bs6 मानक वाले इंजनों को लाया गया था ,जिसकी वजह से कारो की कीमते 50 से 90 हजारो रूपये और टू व्हीलर्स की कीमत 3 से 10 हजार रूपये के बिच बढ़ गयी थी।ऐसा इसलिए क्युकी तकनीक को अपग्रेड करने के लिए लगभग 70 हजार करोड़ का निवेश कार मेन्युफेक्चर्स ने किया था और लागत का बोझ उपभोक्ताओं पर पड़ा था।इसलिए इस बार भी कुछ कंपनिया गाड़ियों के दाम बढ़ा चुकी है और कुछ कंपनिया बढ़ाने वाली है।