इस नवरात्री के व्रत में बनाए फलहारी आलू बोंडा,जानिए इसकी सरल रेसिपी के बारे में

 
h

नवरात्री का त्यौहार शुरू होने वाला है.नवरात्री के दिन घरो में लोग पूजा पाठ के साथ ही व्रत भी करते है। कई लोग पुरे नो दिन व्रत करते है और कुछ लोग व्रत में कुछ फलहार खाते है।अक्सर लोग फलहार में आलू खाना पसंद करते है लेकिन नो दिन तक आलू खाना काफी मुश्किल हो जाता है ऐसे में आप नो दिन के फलहार में आलू बोंडा बना सकते है इसे बनाना काफी सरल है तो चलिए जानते है इसके बारे में 

h

सामग्री - कट्टु का अट्टा एक कप,उबले आलू चार से पांच,हरी धनिया बारीक़ कटा हुआ ,2 चम्मच तेल,सेंधा नमक़,काली मिर्च ,जीरा आधा चम्मच,हरी मिर्च,अदरक,नीबू का रस एक चम्मच ,

बनाने की विधि - 

आलू बोड़ा बनाने के लिए आलू को उबालकर छील ले। इसे अच्छे तरीके से मेष कर ले। पेन को गर्म करे और घी या तेल डाले। गर्म होने पर जीरा डाले जब जीरा भून जाए तो बारीक़ कटे हुए हरी मिर्च ,कद्दूकस किया हुआ अदरक डाले। इसे भून ले अब इसमें मेष किया आलू डाले और सेंधा नमक ,काली मिर्च मिलाकर इसे अच्छे से मिक्स कर ले इसे भून ले। 

h

अब किसी गहरे बर्तन में कुटु के आटे को निकाल ले इसमें थोड़ा सा पानी डालकर घोल बना ले। पानी धीरे धीरे डाले। जिससे बेटर अच्छा बने। अब इस घोल में कटी हुई काली मिर्च डाल दे। इसके साथ सेंधा नमक और अदरक के कटे हुए टुकड़े भी डाले दे इन सभी को घोल में डालकर अच्छे से मिला ले। अब ठंडे आलू के गोलाकार बना ले।अब कड़ाही को गैस पर रखे और तेल को गर्म करे जाब्तेल गर्म हो जाए तो आलू के गोले को बेटर में डुबोकर तले। इसे ब्राउन होए तक फ़्राय करे अब ये बनकर तैयार है इसे हरी चटनी के साथ गर्मागर्म सर्व करे।