Fennel Cultivation: सौंफ की खेती कर किसान बन सकते है लखपति ,जानिए सौंफ की खेती के बारे में

 
PIC

इंडिया में जीरा धनिया मेंथी सौंफ कलौंजी आदि की फसलों की खेती बड़ी प्रमुखता से की जाती है इन मसलों की खास बात यह है की इन्हें आप खरीफ या रबी दोनों मौसम में ऊगा सकते है खरीफ के मौसम में इन फसलों की बुवाई करते समय जल निकलने वाले खेतो का चुनाव करना चाहिए 

PIC
किसान सौंफ की खेती कर संपर्क कमाई कर सकते है रेतीली भूमि को छोड़कर इसकी खेती किसी भी प्रकार की भूमि पर की जा सकती है मिट्टी का PH मान  6.6 से लेकर 8.0 इसकी खेती के लिए सबसे ज्यादा उपयुक्त है इसके अच्छे पैदावार के लिए 20 से 30 डिग्री का तापमान होना बहुत जरुरी है
सौंफ की बुवाई  के पहले किसान खेतों की तैयारी अच्छे से कर लें सबसे पहले किसान खेतों की एक या दो जुताई  कर लें फिर पाटा लगाकर मिटटी को भूरी भूरी कर खेत को समतल कर सुविधानुसार क्यारियां बना लेनी चाहिए इन सबसे पहले बीजों के माध्यम  से पौधशाला में सौंफ के पौधे तैयार कर लें फिर इनकी खेतों में रोपाई कर दें 

PIC
सौंफ के पौधे जब पूरी तरफ विकसित होकर और बीज पूरी तरह जब पक जाए तभी इसकी कटाई करनी चाहिए कटाई के बाद इसे एक से दो दिन खेतों में सूखने के लिए रख दें इसके बाद 8 से 10 दिन इसे छायादार जगहों में सुखाना चाहिए इससे सौंफ का हरा रंग बना रहेगा 
अगर आप एक एकड़ में सौंफ की खेती करते है तो आप आराम से 2 लाख तक की बंपर कमाई कर सकते है इस दौरान लागत ज्यादा से ज्यादा 75 हजार से 1 लाख रूपये एक आ सकती है जितने बड़े क्षेत्र में खेती करते है फायदा उतना ही बढ़ता जाता है